Skip to main content

क्या आपका फोन भी हैंग होता हे तो जानिए अपने फ़ोन को हैंग होने से कैसे रोके

Image result for मोबाइल हंग
अपने फ़ोन को हैंग होने से कैसे रोके

दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले फोन में Android फोन सबसे ऊपर है क्योंकि Android फोन की आपको बहुत सारी एप्लीकेशन मिलती है और Android में आपको बहुत सारे पीछे मिलते हैं इसी कारण एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम के स्मार्टफोन बहुत ज्यादा पॉपुलर है और मार्केट में भी बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं लेकिन कोई भी फोन हो चाहे वो एंड्रॉयड हो या विंडो हो या कोई भी दूसरा ऑपरेटिंग सिस्टम फोन में दिक्कत आती ही आती है जो सबसे ज्यादा और बड़ी दिक्कत है वह है फोन हैंग इनकी अगर आपके फोन का प्रोसेसर और रैम अच्छा नहीं है तो आपका फोन भी हैंग होने लग जाएगा और फोन हैंग होने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं तो आप अपने फोन को हैंग होने से कैसे बचा सकते हैं इसके बारे में नीचे आपको कुछ टिप्स दे गई है इन टिप्स को फॉलो करके आप अपने फोन को हैंग होने से बचा सकते हैं.

1. जिस डेटा की जरूरत नही है उसको हटा के हम मेमोरी को बढ़ा सकते है
आप जानते हो क्या हैं कि लगभग हर वेबसाइट के अंदर वेबसाइट के पेज की गति को बढ़ाने के लिए कैशे मेमोरी का उपयोग करता है यदि आप किसी वेबसाइट.को विजिट करते हो तो आपका फोन अपने आप कुछ फाइल अपने अंदर कैशे मेमोरी के अंदर स्टोर कर लेता है क्योंकि यदि आप बाद में उसे विजिट करे तो वह जल्दी से सामने आ जाये
यह जो अनावश्यक डेटा अपने फोन मेमोरी में है जिस फाइल की जरूरत न हो वो फाइल फ़ोन में स्टोर हो जाती और दूसरी अप्प्स के लिए मेमोरी कम कर देती ह
इसका हल यह देखें इसे कैसे दूर करे.
कुछ सेटिंग से इस प्रॉब्लम को आसानी से दूर करते है देखे
Go to setting>>Storage>>Click on the cache and click on the ok to clear caches.
clear-caches
2 . इनस्टॉल की हुई सारी ऐप्लिकेशन मेमोरी कार्ड में भेज दे.
आप अपने स्मार्टफोन की बहुत अधिक  ऐप्लिकेशन का उपयोग करते हैं तो आप बाह्य मेमोरी में कुछ इंस्टलेड अप्प को ट्रांसफर कर सकते है यह बहुत आसान तरीका है अपने फोन की स्टोरेज को खाली करने का जिसे आप कुछ जरुरत का डाटा स्टोर के सकते है और कुछ स्टोरेज खाली होने से आपका फ़ोन भी फास्ट चलेगा और आप बाहरी मेमोरी कार्ड में सीधे एप्लिकेशन को ट्रॉन्सफर कर सकते है और जिसे आप भारी मेमोरी को इंटरनल मेमोरी की तरह उपयोग के सकते है इसके लिए कुछ आसान सी सेटिंग करनी पड़ती है देखे
Go to setting>>storage>>Tap on the SD card Storage
sd-card-storage
3. सांग को स्टोर करने के लिए बाहरी मेमोरी का उपयोग करे.
फ़ोन मेमोरी का बहुत ज्यादा इस्तेमाल फोन हैंगिंग का मुख्य कारण है है आप अपने फ़ोन में स्टोर किये गए सांग और विडियो और अन्ये फ़ाइल भी फ़ोन हैंगिंग का कारण बनती है इसलिए आपको अपने सांग या विडियो और अन्ये फ़ाइल को बाहरी मेमोरी में रखना चाइये और आप अपने फोन की इंटरनल मेमोरी का उपयोग फोटो या वीडियो जो अपने अपने फ़ोन के कैमरा से बनाई या खेची है उनको स्टोर के लिए भी करते है तो आप फोन की बाहरी मेमोरी को इंटरनल मेमोरी की तरह उपयोग करेंगे तो वो फोटो और वीडियो अपने आप बाहरी मेमोरी के अंदर ट्रासंफर हो जाएगी जिसे आपकी इंटरनल मेमोरी कुछ खाली रहेगी और फोन पे लोड कम हो जायेगा और फोन हैंग कम होगा.
बाहरी मेमोरी को इंटरनल मेमोरी की तरह कैसे उपयोग करे इसके लिए दूसरा स्टेप देखे.
4 . फैक्टरी रीसेट करने का विकल्प (Not Recommended)
क्योंकि यह परिचित नहीं है तो मैं व्यक्तिगत रूप से इस विधि की सिफारिश नहीं करता हु पर यह एंड्राइड फोन में बहुत बरी किया जाता जब हैंग होता है पर यह एंड्राइड फोन में बहुत बरी किया जाता जब हैंग होता है क्योंकि इसे एंड्राइड फ़ोन में जो ब्राउर्स, वेब्सीटेस, अप्प्स से जो एरर आते है उनको फैक्ट्री रिसेट के द्वारा नष्ट किया जा सकता है और जिसे फ़ोन एक बार बिलकुल फ्रेश हो जाता है और बिलकुल सही चलता है और इसे फ़ोन के सारे फाइल्स, अप्प्स, कॉन्टेक्ट्स, मेमोरी सब कुछ नष्ट हो जाता है जो फ़ोन के अंदर है इसलिए ज्यादातर एंड्राइड फ़ोन में इसका उपयोग नही करते है
फैक्टरी रीसेट के सुरक्षित प्रक्रिया:
फैक्ट्री रिसेट प्रोसेस से आपका पर्सनल डाटा नस्ट हो सकता है इसलिए उसका पहले ही बैकअप रखना चाहिए जब आप अपना फ़ोन में फैक्ट्री रिसेट करो तो आप अपने पर्सनल डाटा को आप अपने मैमोरी कार्ड में ट्रॉन्सफर कर सकते है और रिसेट करते टाइम डाटा ट्रॉन्सफर करना नही भूलना चाहिए
5 . क्लाउड स्टोरेज का उपयोग
यदि आप कुछ फाइल जिनको आप फ्यूचर के लिए स्टोर करना कहते हो तो आप क्लाउड स्टोरेज का उपयोग कर सकते हो क्योंकि मेमोरी कार्ड में सिर्फ हम हर रोज उपयोग होने वाला ही डाटा ही स्टोर करते है क्लाउड स्टोरेज में डाटा सेफ रहता है
ये मेरी जानकारो आपको बहुत काम आयी और आप इसे आगे भी शेयर करे ताकि किसी के काम आये

Comments

Popular posts from this blog

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास
आज हम ऐसे मसाले की बात करने वाले हैओ जिसे आम तौर ख़िर में छिड़का जाता है । जी हाँ , जायफल की ! आपको शायद ताजुब्ब होगा कि ज्यादातर लोग शायद इसकी उत्पत्ति के बारे में विशेष रूप से कुछ नही जाने हैं ।समें कोई संदेह नहीं है – यह सुपरमार्केट में मसाला गलियारे से आता है, है ना? लेकिन इस मसाले के पीछे दुखद और खूनी इतिहास छुपा छह है । लेकिन सदियों से जायफल की खोज में हजारों लोगों की मौत हो गई है। जायफल क्या है?

सबसे पहले हम जानते है कि आखिर ये जायफ़ल है क्या ? तो ये नटमेग मिरिस्टिका फ्रेंगनस पेड़ के बीज से आता है । जो बांदा द्वीपों की लंबीसदाबहार प्रजाति है जो इंडोनेशिया के मोलुकस या स्पाइस द्वीप समूह का हिस्सा हैं। जायफल के बीज की आंतरिक गिरी को जायफल में जमीन पर रखा जाता है ।जबकि अरिल (बाहरी लेसी कवर) से गुदा निकलता है। जायफल को लंबे समय से न केवल भोजन के स्वाद के रूप में बल्कि इसके औषधीय गुणों के लिए भी महत्व दिया गया है। वास्तव में जब बड़ी मात्रा में जायफल लिया जाता है तो जायफल एक ल्यूकोसिनोजेन है जो मिरिस्टिसिन नामक एक साइकोएक्टिव केमिकल के कारण होता…

P M JAY HOSPITAL LIST

P M JAY HOSPITAL LIST