Skip to main content

IMF ने दिए 'नोटबंदी का असर समाप्त होने के संकेत'

Image result for notebandhi
वाशिंगटन: अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) ने कहा कि नोटबंदी का असर समाप्त हो रहा है. इसके साथ ही उसने अप्रचलित नोटों की जगह पर नयी मुद्रा तेजी से प्रचलन में लाने पर जोर दिया है ताकि लेन देन बढ़े.आईएमएफ के उप निदेशक (एशिया व प्रशांत विभाग) केनेथ कांग ने कहा, ‘हमें इस बात के संकेत दिख रहे हैं कि नोटबंदी का असर समाप्त हो गया है. कुछ अनुमानों के अनुसार लगभग 75 प्रतिशत नकदी बदल दी गई है.


औद्योगिक उत्पाद व पीएमआई के ताजा सूचकांक भी काफी अच्छे रहे.’ कांग ने कहा कि यह संगठन अवैध वित्तीय लेनदेन के खिलाफ भारत सरकार के प्रयासों का समर्थन करता है.इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था में नकदी बहुत महत्वपूर्ण पहलू है इसलिए नयी मुद्रा को जल्द से जल्द परिचालन में लाना चाहिए इससे न केवल लेनदेन फिर से बढ़ेगा बल्कि आम परिवारों की क्रय शक्ति भी लौटेगी.
उन्होंने कहा कि नोटबंदी ‘आश्चर्यजनक’ कदम था.

Comments

Popular posts from this blog

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास आज हम ऐसे मसाले की बात करने वाले हैओ जिसे आम तौर ख़िर में छिड़का जाता है । जी हाँ , जायफल की ! आपको शायद ताजुब्ब होगा कि ज्यादातर लोग शायद इसकी उत्पत्ति के बारे में विशेष रूप से कुछ नही जाने हैं ।समें कोई संदेह नहीं है – यह सुपरमार्केट में मसाला गलियारे से आता है, है ना? लेकिन इस मसाले के पीछे दुखद और खूनी इतिहास छुपा छह है । लेकिन सदियों से जायफल की खोज में हजारों लोगों की मौत हो गई है। जायफल क्या है? सबसे पहले हम जानते है कि आखिर ये जायफ़ल है क्या ? तो ये नटमेग मिरिस्टिका फ्रेंगनस पेड़ के बीज से आता है । जो बांदा द्वीपों की लंबीसदाबहार प्रजाति है जो इंडोनेशिया के मोलुकस या स्पाइस द्वीप समूह का हिस्सा हैं। जायफल के बीज की आंतरिक गिरी को जायफल में जमीन पर रखा जाता है ।जबकि अरिल (बाहरी लेसी कवर) से गुदा निकलता है। जायफल को लंबे समय से न केवल भोजन के स्वाद के रूप में बल्कि इसके औषधीय गुणों के लिए भी महत्व दिया गया है। वास्तव में जब बड़ी मात्रा में जायफल लिया जाता है तो जायफल एक ल्यूकोसिनोजेन है जो मिरिस्टिसिन नामक एक साइकोएक्टिव केम

P M JAY HOSPITAL LIST

P M JAY HOSPITAL LIST