Skip to main content

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में निकली बम्‍पर भर्तियां, जल्‍द करें आवेदन

Image result for state bank of india
नई दिल्‍ली: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने विशेष प्रबंधन कार्यकारी (SME) के 554 पदों पर भर्ती निकाली है. इच्‍छुक उम्‍मीदवार 18 मई, 2017 तक अपनी एप्‍लीकेशन ऑनलाइन सब्मिट कर सकते हैं. MMGS III ग्रेड में कुल 273 और MMGS II ग्रेड के 281 पदों पर ये भर्तियां निकली हैं. जिन उम्मीदवारों ने सीए / आईसीडब्ल्यूए / एसीएस / एमबीए (वित्त) या इसके बराबर पोस्ट ग्रेजुएश
न डिग्री प्राप्‍त की हुई है वह इन पदों पर आवदेन कर सकते हैं.




इसके लिए आपका इंटरव्‍यू लिया जाएगा, जिसके तहत ऑनलाइन ऑब्‍जेक्टिव टेस्‍ट, ग्रुप एक्‍सरसाइज और ग्रुप इंटरव्‍यू होगा. ऑनलाइन टेस्ट में सामान्य / बैंकिंग जागरूकता, रिजनिंग, डेटा व्याख्या और विश्लेषण, अंग्रेजी और वित्तीय डेटा व्याख्या और विश्लेषण से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे.


दूसरी ओर, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने नियमित और अनुबंध के आधार पर स्पेशलिस्ट कैडर अधिकारी की भर्ती के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू कर दिया है.


फिलहाल बैंक ने अहमदाबाद, बड़ौदा, बैंगलोर, मैसूर, भोपाल, इंदौर, भुवनेश्वर, संबलपुर, चंडीगढ़, लुधियाना, जम्मू, चेन्नई, मदुरै, गुवाहाटी, डिब्रूगढ़, हैदराबाद, विजयवाड़ा, कोलकाता, आसनसोल, लखनऊ, वाराणसी, मुंबई, नागपुर, दिल्ली, जयपुर, पटना, रांची, कोच्चि और त्रिवेंद्रम में परीक्षा कराने का फैसला लिया है.


महत्वपूर्ण डेट

आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि: 18 मई 2017

परीक्षा की तिथि: 18 जून 2017

परीक्षा के लिए कॉल लेटर डाउनलोड करने की डेट: 6 जून 2017

Comments

Popular posts from this blog

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास आज हम ऐसे मसाले की बात करने वाले हैओ जिसे आम तौर ख़िर में छिड़का जाता है । जी हाँ , जायफल की ! आपको शायद ताजुब्ब होगा कि ज्यादातर लोग शायद इसकी उत्पत्ति के बारे में विशेष रूप से कुछ नही जाने हैं ।समें कोई संदेह नहीं है – यह सुपरमार्केट में मसाला गलियारे से आता है, है ना? लेकिन इस मसाले के पीछे दुखद और खूनी इतिहास छुपा छह है । लेकिन सदियों से जायफल की खोज में हजारों लोगों की मौत हो गई है। जायफल क्या है? सबसे पहले हम जानते है कि आखिर ये जायफ़ल है क्या ? तो ये नटमेग मिरिस्टिका फ्रेंगनस पेड़ के बीज से आता है । जो बांदा द्वीपों की लंबीसदाबहार प्रजाति है जो इंडोनेशिया के मोलुकस या स्पाइस द्वीप समूह का हिस्सा हैं। जायफल के बीज की आंतरिक गिरी को जायफल में जमीन पर रखा जाता है ।जबकि अरिल (बाहरी लेसी कवर) से गुदा निकलता है। जायफल को लंबे समय से न केवल भोजन के स्वाद के रूप में बल्कि इसके औषधीय गुणों के लिए भी महत्व दिया गया है। वास्तव में जब बड़ी मात्रा में जायफल लिया जाता है तो जायफल एक ल्यूकोसिनोजेन है जो मिरिस्टिसिन नामक एक साइकोएक्टिव केम

18 अनसुनी बाते ताजमहल की! यह बाते आपने कही नहीं सुनी होगी!!!

ताजमहल सिर्फ़ प्यार की निशानी ही नहीं हैं, बल्कि इसका नाम दुनिया के सात अजूबों में भी शुमार किया जाता है. इस खूबसूरत और प्यार की कहानी बयां करने वाली इमारत को किसने किस लिए बनवाया हम सब जानते हैं पर इसके बावजूद बहुत सी ऐसी बातें भी है जिन्हें हम नहीं जानते. हम आज आपको ताजमहल के उन्हीं रहस्यों के बारे में बता रहे हैं, जो इस खूबसूरत इमारत की चकाचौंध में नहीं दिखाई पड़ते. 1. मुमताज़ के मकबरे की छत पर एक छेद मकबरे की छत की छेद से टपकते पानी की बूंद के पीछे कई कहानियां प्रचलित है, जिसमें से एक यह है कि जब शाहजहां ने सभी मज़दूरों के हाथ काट दिए जाने की घोषणा की ताकि वे कोई और ऐसी खूबसूरत इमारत न बना सके तो मजदूरों ने ताजमहल को पूरा के बावजूद इसमें एक ऐसी कमी छोड़ दी जिससे शाहजहां का खूबसूरत सपना पूरा न हो सके. Source:  wallpaperup 2. ताजमहल के चारों ओर बांस का घेरा द्वितीय विश्व युद्ध, 1971 भारत-पाक युद्ध और 9/11 के बाद इस भव्य इमारत की सुरक्षा के लिए ASI ने ताजमहल के चारों और बांस का सुरक्षा घेरा बना कर उसे हरे रंग की चादर से ढक दिया था, जिससे ताजमहल दुश्मनों को नज़र न आये और इसे किसी प्रकार की