Skip to main content

गर्मियों में इन तरीकों को अपनाएंगे तो नहीं होगा खाना जल्दी खराब

Image result for refrigeratorगर्मियों के मौसम में खाने-पीने की चीजें अधिक मात्रा में खराब होती है। जिसके कारण आपकी उस खाने को बनाने में लगी मेहनत खराब जाती है। लेकिन आपको यह बात समझ नही आती है कि आखिर खाने को खराब होने से कैसे बचाया जाएं।
जिससे ये हेल्दी होने के साथ-साथ खराब न हो। तो हम आपको कुछ ऐसे नुस्खे बता रहे है जिनसे आप आसानी से खाने को खराब होने से बचा सकते है। जानिए इन नुस्खे के बारें में।

कभी भी पका और कच्चा आहार एक साथ न रखें

माना जाता है कि कच्चा और पका खाना साथ में रखने से वह जल्द ही खराब होता है। इसलिए कभी भी फ्रिज में कच्चा और पका आहार एक साथ न रख के अलग-अलग रखें। साथ ही एक साथ एक ही डिब्बे ज्यादा मात्रा में खाना न रखें। क्योंकि ऐसा करने से पूरा खाना ठंडा नहीं हो पाता। जबकि कम-कम खाना रखने पर अच्छे से तरह ठंडा होगा।

ठीक ढंग से पकाएं खाना

कम पके हुए खाना में बैक्टीरिया जल्दी पनपने लगते हैं और खाना जल्दी खराब हो जाता है। इसलिए खाने को अच्छे से पकाएं। इसके साथ ही जब भी खाना खाएं उससे पहले उसे एक बार गर्म जरुर करें। ताकि उस गर्म खाने में बैक्टीरिया पैदा न हो सकें।

अधिक दिनों तक न रखें
गर्मी का मौसम एक ऐसा मौसम है जब बहुत ही जल्दी खाना खराब होने की संभावना रहती है। इसलिए कभी भी 2 दो दिन से ज्यादा खाना फ्रिज में न रखें। अगर आपको ज्यादा दिन रखना भी है तो ठंडा कर के ही रखें।

फ्रिज में अधिक चीजें ना करें स्टोर

कभी भी फ्रिज में ज्यादा चीजें न रखें, क्योंकि इससे उसकी कूलिंग में असर पडता है। अगर उसकी कूलिंग ठीक ढंग से काम नहीं करेगी तो उसमें रखें खाने में असर पडेगा। साथ ही फ्रिज में कूलिंग ठीक तरह से रहने के लिए हवा का सर्कुलेशन अच्छा होना जरूरी है। इसलिए अधिक खाना स्टोर न करें।

खाना ठंडा करके ही रखें

माना जाता है कि अगर तापमान ज्यादा है तो खाने की चीजों में जल्द ही जर्म्स हो जाएंगे। इसलिए कमरे के तापमान में ज्यादा से ज्यादा 1 घंटे के लिए ही खाना रखें। या फिर इसे ठंडा करके 4°C पर फ्रिज में रखना बेहतर होता है। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि कभी भी तुरंत गर्म- गर्म खाना फ्रिज में न रखें। इससे वो खराब हो सकता है।

Image result for milk wasteदूध खराब होने से ऐसे बचाएं;
इस मौसम में सबसे बड़ी समस्या है दूध का खराब होना। इसे बचाने के लिए इसे उबाल कर ठंडा कर तुंरत फ्रिज में रख दें। अगर फ्रिज बंद हो तो एक बडे कटोरे में पानी भरकर उसके ऊपर दूध का कटोरा रखें। इससे वह खराब नहीं होगा। इसी तरह अगर दाल को सुबह बनाया है तो उसे दोपहर में खाने से पहले गर्म करना न भूलें। बाजार से सब्जी जब भी खरीद कर लाएं तो उन्हें धोकर पोंछ लें और फिर उन्हें पेपर बैग में रखें

Comments

Popular posts from this blog

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास
आज हम ऐसे मसाले की बात करने वाले हैओ जिसे आम तौर ख़िर में छिड़का जाता है । जी हाँ , जायफल की ! आपको शायद ताजुब्ब होगा कि ज्यादातर लोग शायद इसकी उत्पत्ति के बारे में विशेष रूप से कुछ नही जाने हैं ।समें कोई संदेह नहीं है – यह सुपरमार्केट में मसाला गलियारे से आता है, है ना? लेकिन इस मसाले के पीछे दुखद और खूनी इतिहास छुपा छह है । लेकिन सदियों से जायफल की खोज में हजारों लोगों की मौत हो गई है। जायफल क्या है?

सबसे पहले हम जानते है कि आखिर ये जायफ़ल है क्या ? तो ये नटमेग मिरिस्टिका फ्रेंगनस पेड़ के बीज से आता है । जो बांदा द्वीपों की लंबीसदाबहार प्रजाति है जो इंडोनेशिया के मोलुकस या स्पाइस द्वीप समूह का हिस्सा हैं। जायफल के बीज की आंतरिक गिरी को जायफल में जमीन पर रखा जाता है ।जबकि अरिल (बाहरी लेसी कवर) से गुदा निकलता है। जायफल को लंबे समय से न केवल भोजन के स्वाद के रूप में बल्कि इसके औषधीय गुणों के लिए भी महत्व दिया गया है। वास्तव में जब बड़ी मात्रा में जायफल लिया जाता है तो जायफल एक ल्यूकोसिनोजेन है जो मिरिस्टिसिन नामक एक साइकोएक्टिव केमिकल के कारण होता…

P M JAY HOSPITAL LIST

P M JAY HOSPITAL LIST