Skip to main content

आज से लागू हो रहे हैं कई अहम फैसले, बदल जाएगी कई व्यवस्थाओं की तस्वीर जानिए क्या हे फैसले

Image result for 1 may 2017 modi aham new niyam
देशभर में 1 मई से कई बड़े फैसले लागू हो रहे हैं। इनमें सबसे महत्वपूर्ण रियल एस्टेट में पारदर्शिता बढ़ाने के लिए रेरा एक्ट का लागू होना और लालबत्ती कल्चर खत्म होना है। आइए जानें सोमवार से लागू हो रहे फैसलों के बारे में..



रेरा लागू, घर खरीदने वालों को होगा फायदा रियल एस्टेट (रेग्युलेशन एंड डेवलपमेंट ) एक्ट लागू हो रहा है। हर राज्य को रियल एस्टेट रेग्युलेटरी अथॉरिटी बनाना होगी। इसका काम किसी भी बिल्डर के खिलाफ आई शिकायत का निवारण करना होगा। एक अगस्त के पहले रियल एस्टेट एजेंट और मौजूदा हाउसिंग प्रोजेक्ट का पंजीयन कराना जरूरी होगा। इस अवधि में काम शुरू हो चुके प्रोजेक्ट पर कोई रोक नहीं रहेगी। मध्यप्रदेश में सोमवार से (रेरा) में पंजीयन शुरू हो जाएगा। बिना पंजीयन नए हाउसिंग प्रोजेक्ट के विज्ञापन जारी नहीं होंगे। आधिकारिक वेबसाइट दोपहर बाद शुरू हो जाएगी। कोई भी व्यक्ति उस पर शिकायत, पंजीयन आदि कार्रवाई कर सकता है। निर्धारित फीस ऑनलाइन ही जमा होगी।

रेरा से फायदा: इससे सेक्टर में जवाबदेही बढ़ेगी और पारदर्शिता आएगी। सभी डेवलपर्स को प्रोजेक्ट से जुड़ी सभी जानकारी जैसे योजना, लेआउट, जमीन की स्थिति, प्रोजेक्ट खत्म होने तक की जानकारी उपलब्ध करवाना होगी।


Image result for लाल बत्ती पर रोक


लालबत्ती पर रोक
देशभर में वीआईपी लालबत्ती का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। यह नियम प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और भारत के चीफ जस्टिस के वाहनों पर भी लागू होगा। एंबुलेंस व फायर सर्विस की गाड़ियों, पुलिस और सेना के वाहन नीली बत्ती का इस्तेमाल कर सकेंगे।

इससे फायदा: यातायात में समानता आएगी। आम और खास का फर्क मिटेगा।

पांच शहरों में रोजाना तय होंगे पेट्रोल-डीजल के दाम
पुडुचेरी, उदयपुर, जमशेदपुर, चंडीगढ़ और विशाखापट्टनम में सोमवार से रोजाना पेट्रोल-डीजल की कीमतें तय होंगी। वर्तमान में हर 15 दिन के अंतराल के बाद कीमतें निर्धारित होती हैं। पायलट प्रोजेक्ट सफल रहा तो इसे पूरे देश में लागू किया जाएगा।

इससे फायदा: अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतें कम होने पर ग्राहकों को इसका फायदा तुरंत मिलेगा।

जीएसटी पोर्टल का ट्रायल रन आज से
सोमवार से जीएसटी पोर्टल का ट्रायल रन शुरू हो जाएगा। पहले जीएसटी पोर्टल का बीटा वर्जन लॉन्च होगा। तीन हजार करदाताओं के साथ यह ट्रायल शुरू होगा। सफलता के बाद सभी पर लागू किया जाएगा। इसमें रिटर्न भरने, इनवॉइस डाटा अपलोड करने जैसी प्रक्रियाएं पूरी की जाएंगी।

इससे फायदा: एक क्लिक पर करदाताओं को सारी जरूरी जानकारी उपलब्ध होगी। इसका डिजिटल रिकॉर्ड होगा, जिसे सुरक्षित रखने में दिक्कत नहीं होगी।

बंद हो जाएगा बैंक खाता अगर आपने जुलाई 2014 से अगस्त 2015 के बीच बैंक या दूसरे वित्तीय संस्थान में खाता खोला है और अगर आपने 30 अप्रैल तक नो योर कस्टमर (केवाईसी) डिटेल या आधार नंबर नहीं दिया है तो आपका खाता ब्लॉक कर दिया जाएगा।

इससे नुकसान: इससे कई ग्राहकों के खाते बंद हो जाएंगे।

Image result for पनब लोन सस्ता
पीएनबी का लोन सस्ता

पंजाब नेशनल बैंक ने ब्याज दर में 0.10 फीसदी से 0.15 फीसदी तक की कटौती की है। अब रोजाना के कर्ज पर ब्याज दर 8.20 फीसदी की जगह 8.05 फीसदी और पांच साल के लोन के लिए 8.75 फीसदी के बजाय 8.65 फीसदी होगी।

इससे फायदा: ईएमआई कम हो जाएगी।

इंदौर समेत चार शहरों में नई डाक व्यवस्था
डाक विभाग एक मई से प्रदेश में दो नई डाक व्यवस्थाएं शुरू कर रहा है। यह सेवाएं इंदौर, भोपाल, ग्वालियर व जबलपुर के लिए होंगी। चुने हुए डाकघरों में दोपहर 12 बजे तक बुक किए गए स्पीड पोस्ट, बिजनेस पार्सल और एक्सप्रेस पार्सल (जो उसी शहर के हों), वह उसी दिन वितरित किए जाएंगे।

इससे फायदा: ग्राहकों की जरूरी डाक तय समय पर पहुंच सकेगी। प्रदेश में पॉलिथिन पर प्रतिबंध आज से नहीं राज्य सरकार ने 1 मई से प्लास्टिक बैग और पॉलिथिन के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने की घोषषणा की। हालांकि, तकनीकी दिक्कतों की वजह से यह सोमवार से लागू नहीं हो पा रही है। दरअसल, विधानसभा सत्र के दौरान सरकार कोई अध्यादेश नहीं ला सकती। इस कारण 3 मई को सत्रावसान के बाद ही अध्यादेश लाना संभव हो पाएगा।

Comments

Popular posts from this blog

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास
आज हम ऐसे मसाले की बात करने वाले हैओ जिसे आम तौर ख़िर में छिड़का जाता है । जी हाँ , जायफल की ! आपको शायद ताजुब्ब होगा कि ज्यादातर लोग शायद इसकी उत्पत्ति के बारे में विशेष रूप से कुछ नही जाने हैं ।समें कोई संदेह नहीं है – यह सुपरमार्केट में मसाला गलियारे से आता है, है ना? लेकिन इस मसाले के पीछे दुखद और खूनी इतिहास छुपा छह है । लेकिन सदियों से जायफल की खोज में हजारों लोगों की मौत हो गई है। जायफल क्या है?

सबसे पहले हम जानते है कि आखिर ये जायफ़ल है क्या ? तो ये नटमेग मिरिस्टिका फ्रेंगनस पेड़ के बीज से आता है । जो बांदा द्वीपों की लंबीसदाबहार प्रजाति है जो इंडोनेशिया के मोलुकस या स्पाइस द्वीप समूह का हिस्सा हैं। जायफल के बीज की आंतरिक गिरी को जायफल में जमीन पर रखा जाता है ।जबकि अरिल (बाहरी लेसी कवर) से गुदा निकलता है। जायफल को लंबे समय से न केवल भोजन के स्वाद के रूप में बल्कि इसके औषधीय गुणों के लिए भी महत्व दिया गया है। वास्तव में जब बड़ी मात्रा में जायफल लिया जाता है तो जायफल एक ल्यूकोसिनोजेन है जो मिरिस्टिसिन नामक एक साइकोएक्टिव केमिकल के कारण होता…

P M JAY HOSPITAL LIST

P M JAY HOSPITAL LIST