Skip to main content

फेसबुक में क्या आपने की ये जरूरी सेटिंग्स?

Image result for फेसबुक सेटिंग
फेसबुक हमारी जिंदगी का महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुका है और हम सभी अपनी जिंदगी को कंट्रोल में रखना चाहते हैं। अगर आप अपने फेसबुक को कंट्रोल करने में असमर्थ हैं, तो आपमें अपनी जिंदगी को कंट्रोल करने की क्षमता होनी चाहिए।यहां हम कुछ ऐसी settings बता रहे हैं, जिनपर आपका कंट्रोल होना बहुत जरूरी है:


1.Login Alerts:

 वैसे तो आप अपने फेसबुक अकाउंट को सुरक्षित रख सकते हैं लेकिन तब क्या करेंगे अगर कोई आपके अकाउंट को हैक करके मैनेज करने लगे? इसलिए लॉगिन अलर्ट सेट करना बहुत जरूरी है। इस सेटिंग को इनेबल करने से फायदा यह होगा कि जब भी कोई नयी डिवाइस या ब्राउजर से आपके अकाउंट को अनाधिकृत तरीके से एक्सेस करने की कोशिश करेगा तो फेसबुक आपको हर बार अलर्ट भेजेगा।

2.Videos:

 फेसबुक ने by default वीडियो ऑटो प्ले को सेट कर दिया है, इससे फर्क नहीं पड़ता कि आप LAN, WiFi या एक मोबाइल नेटवर्क द्वारा कनेक्टेड है। इसका मतलब है कि आपकी न्यूज फीड में दिखने वाले वीडियो तब भी प्ले हो जाएंगे जब आप वाइ-फाइ पर कनेक्ट नहीं हो और इसके कारण आपके मूल्यवान डाटा की खपत होती जाएगी।
फेसबुक पर बहुत अधिक मात्रा में रोजाना वीडियो शेयर होते हैं और उनमें से बस कुछ ही होंगे, जिन्हें आप सच में देखना चाहते होंगे। इसलिए हम सलाह देंगे कि आप default video auto-play सेटिंग को “On” से केवल “Wi-Fi” पर चेंज कर दें। इससे न केवल आपके मोबाइल डाटा की बचत होगी, बल्कि आप बिना ध्यान भटके अपनी न्यूज फीड द्वारा भी ब्राउजिंग कर सकेंगे।

वीडियो ऑटो प्ले सेटिंग चेंज करने के लिए ये करें:
1.एंड्रायड यूजर्स अपने मोबाइल पर एप सेटिंग्स के अंतर्गत “Videos play automatically” पर जा सकते हैं और इसे “Wi-fi only” पर सेट कर सकते हैं।
2.आइफोन यूजर्स सेटिंग्स>अकाउंट सेटिंग्स> वीडियोज और फोटोज में जाएं और ऑटो प्ले सेटिंग को “On Mobile Data and WiFi Connections” से “On WiFi connections Only” पर चेंज कर दें।
ब्राउजर पर सेटिंग को चेंज करने के लिए यहां क्लिक करें 

3. Trusted Contacts:

 फेसबुक में ट्रस्टेड कॉन्टैक्ट्स वह होते हैं, जो आपकी तब मदद करते हैं जब आप अपना अकाउंट एक्सेस नहीं कर पा रहे हो। जैसे- आप अपना फेसबुक पासवर्ड भूल गए और अपने इमेल अकाउंट के अंदर भी इसे रीसेट नहीं कर सकते। इन सिचुएशन्स में ट्रस्टेड कॉन्टैक्ट्स आपको अपने अकाउंट पर वापस कंट्रोल पाने में मदद करते हैं।
बतौर ट्रस्टेड कॉन्टैक्ट्स आप 3 से 5 दोस्तों के नाम एड कर सकते हैं।

Trusted Contacts ऐसे करेंगे वर्क:

जब किसी भी कारण के चलते आप अपने फेसबुक अकाउंट के अंदर साइन-इन नहीं कर सकेंगे या अकाउंट लॉक हो जाएगा, तब आपके ट्रस्टेड कॉन्टैक्ट्स इसे विशेषतौर पर आपके लिए कर सकेंगे और ऐसा करने के लिए इन ट्रस्टेड कॉन्टैक्ट्स को फेसबुक से वन टाइम सिक्योरिटी कोड्स एक URL द्वारा भेजा जाएगा, तब आप अपने दोस्तों को कॉल करके वह सिक्योरिटी कोड्स प्राप्त करने के लिए कह सकते हैं और फिर उस कोड को अपना अकाउंट एक्सेस करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।
यह फीचर यहां placed under Security Settings पर उपलब्ध है।

4.Legacy Contact:

 मौत तो निश्चित ही है, ऐसे में फेसबुक आपको एक ऐसे व्यक्ति का चुनाव करने देता है, जो आपकी मृत्यु के बाद आपके अकाउंट का वारिस बन सकें। फेसबुक के अनुसार यह व्यक्ति आपकी टाइमलाइन पर एक पोस्ट को PIN कर सकेगा, नई फ्रेंड रिक्वेस्ट का जवाब दे सकेगा और आपकी प्रोफाइल पिक्चर भी अपडेट कर सकेगा।
लेकिन यह व्यक्ति आपकी तरह पोस्ट नहीं कर सकेगा और न ही आपके मैसेजेस पढ़ सकेगा। यह व्यक्ति आपकी पुरानी पोस्ट्स, फोटोज को रिमूव और चेंज भी नहीं कर सकेगा और न ही अन्य चीजों को आपकी टाइमलाइन पर शेयर कर सकेगा।
याद रखें कि जिस legacy contact का आप चुनाव करेंगे, उसे आपके मृत्यु दिवस से पहले सूचित नहीं किया जाएगा, लेकिन फेसबुक आपको उसे एक मैसेज भेजने का विकल्प देता है।
अगर यूजर मृत्यु के बाद अपने अकाउंट को memorialised नहीं करना चाहता, तो वह सिक्योरिटी सेटिंग्स में जाकर Legacy Contact के अंतर्गत “Account Deletion” विकल्प का चयन कर सकता है, ताकि मृत्यु के बाद उसका अकाउंट हमेशा के लिए डिलीट हो जाएं।

Comments

Popular posts from this blog

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास आज हम ऐसे मसाले की बात करने वाले हैओ जिसे आम तौर ख़िर में छिड़का जाता है । जी हाँ , जायफल की ! आपको शायद ताजुब्ब होगा कि ज्यादातर लोग शायद इसकी उत्पत्ति के बारे में विशेष रूप से कुछ नही जाने हैं ।समें कोई संदेह नहीं है – यह सुपरमार्केट में मसाला गलियारे से आता है, है ना? लेकिन इस मसाले के पीछे दुखद और खूनी इतिहास छुपा छह है । लेकिन सदियों से जायफल की खोज में हजारों लोगों की मौत हो गई है। जायफल क्या है? सबसे पहले हम जानते है कि आखिर ये जायफ़ल है क्या ? तो ये नटमेग मिरिस्टिका फ्रेंगनस पेड़ के बीज से आता है । जो बांदा द्वीपों की लंबीसदाबहार प्रजाति है जो इंडोनेशिया के मोलुकस या स्पाइस द्वीप समूह का हिस्सा हैं। जायफल के बीज की आंतरिक गिरी को जायफल में जमीन पर रखा जाता है ।जबकि अरिल (बाहरी लेसी कवर) से गुदा निकलता है। जायफल को लंबे समय से न केवल भोजन के स्वाद के रूप में बल्कि इसके औषधीय गुणों के लिए भी महत्व दिया गया है। वास्तव में जब बड़ी मात्रा में जायफल लिया जाता है तो जायफल एक ल्यूकोसिनोजेन है जो मिरिस्टिसिन नामक एक साइकोएक्टिव केम

18 अनसुनी बाते ताजमहल की! यह बाते आपने कही नहीं सुनी होगी!!!

ताजमहल सिर्फ़ प्यार की निशानी ही नहीं हैं, बल्कि इसका नाम दुनिया के सात अजूबों में भी शुमार किया जाता है. इस खूबसूरत और प्यार की कहानी बयां करने वाली इमारत को किसने किस लिए बनवाया हम सब जानते हैं पर इसके बावजूद बहुत सी ऐसी बातें भी है जिन्हें हम नहीं जानते. हम आज आपको ताजमहल के उन्हीं रहस्यों के बारे में बता रहे हैं, जो इस खूबसूरत इमारत की चकाचौंध में नहीं दिखाई पड़ते. 1. मुमताज़ के मकबरे की छत पर एक छेद मकबरे की छत की छेद से टपकते पानी की बूंद के पीछे कई कहानियां प्रचलित है, जिसमें से एक यह है कि जब शाहजहां ने सभी मज़दूरों के हाथ काट दिए जाने की घोषणा की ताकि वे कोई और ऐसी खूबसूरत इमारत न बना सके तो मजदूरों ने ताजमहल को पूरा के बावजूद इसमें एक ऐसी कमी छोड़ दी जिससे शाहजहां का खूबसूरत सपना पूरा न हो सके. Source:  wallpaperup 2. ताजमहल के चारों ओर बांस का घेरा द्वितीय विश्व युद्ध, 1971 भारत-पाक युद्ध और 9/11 के बाद इस भव्य इमारत की सुरक्षा के लिए ASI ने ताजमहल के चारों और बांस का सुरक्षा घेरा बना कर उसे हरे रंग की चादर से ढक दिया था, जिससे ताजमहल दुश्मनों को नज़र न आये और इसे किसी प्रकार की