Skip to main content

CBI में नौकरी पाने का अच्छा अवसर, 12वीं पास भी कर सकते हैं अप्लाई

Image result for CBI
अगर आप भी केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो यानि सीबीआई में काम करना चाहते हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। सीबीआई ने कई पदों पर उम्मीदवारों की भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है, जिसके अनुसार 116 पदों पर उम्मीदवारों की भर्ती की जाएगी। यह भर्ती जूनियर इंटेलिजेंस ऑफिसर (जेईओ) पद की जाएगी। साथ ही योग्यता के अनुसार उम्मीदवारों की पे-स्केल और ग्रेड पे आदि तय की गई है। अगर आप भी इन पदों के लिए आवेदन करना चाहते हैं और इन पदों के योग्य हैं तो आप आवेदन करने की आखिरी तारीख से पहले ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।

इन पदों पर भर्ती के लिए आवेदन करने वाले आवेदक के पास देश के किसी भी बोर्ड, विश्वविद्यालय या संस्थान से 12वीं की डिग्री होनी चाहिए। इन पदों पर चयनित होने वाले उम्मीदवारो की पे-स्केल 5200-20200 रुपये होगी और ग्रेड पे 2400 रुपये तय की गई है। इन पदों पर आवेदन के लिए आवेदक की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष अधिकतम उम्र 56 वर्ष निर्धारित की गई है। साथ ही सीबीआई में आरक्षण संबंधी नियमों के आधार पर आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को कई वर्ग में छूट भी दी जाएगी। इस भर्ती को लेकर होने वाले परीक्षा की पूरे देश में एक ही तारीख रहेगी और वर्तमान साल में ही सभी पदों पर उम्मीदवारों की नियुक्ति की जाएगी।
इन पदों के लिए योग्य अभ्यर्थियों का चयन लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर किया जाएगा। सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (CBI‍) में नौकरी के लिए आवेदन करने के इच्‍छुक अभ्‍यर्थी इंटेलिजेंस ब्‍यूरो की ऑफिशियल वेबसाइट पर 2 मई 2017 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए सीबीआई की ऑफिशियल वेबसाइट चेक करें। साथ ही ऑफलाइन माध्यम से आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को सभी जरूरी दस्तावेज लोधी रोड़ स्थित ऑफिस में भेजने होंगे।
बता दें कि सीबीआई भारत सरकार की प्रमुख जांच एजेंसी है। यह आपराधिक एवं राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े हुए भिन्न-भिन्न प्रकार के मामलों की जांच करने के लिए लगाई जाती है। यह कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के अधीन कार्य करती है। यद्यपि इसका संगठन फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन से मिलता-जुलता है किन्तु इसके अधिकार एवं कार्य-क्षेत्र एफबीआई की तुलना में बहुत सीमित हैं।
READ SOURCE

Comments

Popular posts from this blog

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास
आज हम ऐसे मसाले की बात करने वाले हैओ जिसे आम तौर ख़िर में छिड़का जाता है । जी हाँ , जायफल की ! आपको शायद ताजुब्ब होगा कि ज्यादातर लोग शायद इसकी उत्पत्ति के बारे में विशेष रूप से कुछ नही जाने हैं ।समें कोई संदेह नहीं है – यह सुपरमार्केट में मसाला गलियारे से आता है, है ना? लेकिन इस मसाले के पीछे दुखद और खूनी इतिहास छुपा छह है । लेकिन सदियों से जायफल की खोज में हजारों लोगों की मौत हो गई है। जायफल क्या है?

सबसे पहले हम जानते है कि आखिर ये जायफ़ल है क्या ? तो ये नटमेग मिरिस्टिका फ्रेंगनस पेड़ के बीज से आता है । जो बांदा द्वीपों की लंबीसदाबहार प्रजाति है जो इंडोनेशिया के मोलुकस या स्पाइस द्वीप समूह का हिस्सा हैं। जायफल के बीज की आंतरिक गिरी को जायफल में जमीन पर रखा जाता है ।जबकि अरिल (बाहरी लेसी कवर) से गुदा निकलता है। जायफल को लंबे समय से न केवल भोजन के स्वाद के रूप में बल्कि इसके औषधीय गुणों के लिए भी महत्व दिया गया है। वास्तव में जब बड़ी मात्रा में जायफल लिया जाता है तो जायफल एक ल्यूकोसिनोजेन है जो मिरिस्टिसिन नामक एक साइकोएक्टिव केमिकल के कारण होता…

P M JAY HOSPITAL LIST

P M JAY HOSPITAL LIST