Skip to main content

इन ऐप्स के माध्यम से फ्रंट और रियर कैमरा से एक साथ फोटो कर सकते हैं क्लिक

इन ऐप्स के माध्यम से फ्रंट और रियर कैमरा से एक साथ फोटो कर सकते हैं क्लिक

आपने बहुत से ऐसे स्मार्टफोन देखें होंगे जिनके माध्यम से फ्रंट और बैक कैमरा दोनों से एक समय में फोटो क्लिक की जा सकती है। नोकिया ने अपने नोकिया 8 में इस फीचर को शामिल किया था और इसे बोथी नाम दिया था। सैमसंग ने भी अपने स्मार्टफोन में इस फीचर को शामिल किया है। लेकिन अगर आपके फोन में ऐसा फंक्शन नहीं है तो हम आपको कुछ ऐसी ऐप्स के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनके माध्यम से आप फ्रंट और बैक कैमरा से एक साथ फोटो क्लिक कर सकते हैं। आइये जानते हैं इन ऐप्स के बारे में।
Frontback
यह ऐप एंड्राइड और आईओएस दोनों डिवाइसेज के लिए उपलब्ध है। यह ऐप आपके रियर और फ्रंट कैमरा से ली गई फोटोज को कम्बाइन करता है। आप इस ऐप को ईमेल, फेसबुक, ट्विटर या गूगल के माध्यम से भी साइनअप कर सकते हैं। ऐप को ब्राउज करने के बाद आप ‘फ्रंटबैक’ फोटोज ले सकते हैं इसके लिए आपको अकाउंट बनाने की जरूरत नहीं है। ऐप की अपनी सॉइल स्ट्रीम है। लेकिन इस फीचर का इस्तेमाल करने के लिए आपको अकाउंट बनाने की जरूरत होगी।
ऐप का इस्तेमाल करना काफी आसान है और इसका इंटरफेस भी सरल है। यह आपको ऐप के अंदर थोड़ी एडिटिंग करने की अनुमति भी देती है।
Front & Back Camera – Dual Selfie Camera Effect
यह ऐप एंड्राइड के लिए उपलब्ध है। इस ऐप की मदद से आप फ्रंट और बैक कैमरा से एक समय में फोटोज क्लिक कर सकते हैं। आप एक टैप के माध्यम से इन दोनों फोटोज को एक सिंगल फोटो में कम्बाइन भी कर सकते हैं। Frontback ऐप की तरह ही इसमें भी आप हल्की एडिटिंग कर सकते हैं। इनमे विंटेज और रेट्रो फिल्टर्स और रोटेट फोटोज फीचर शामिल है। ऐप से आप फोटोज को व्हाट्सप्प, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम या अन्य प्लेटफॉर्म्स पर भी शेयर कर सकते हैं।
phoTWO
यह ऐप आईओएस डिवाइसेज के लिए उपलब्ध है। यह PIP कैमरा ऐप से मिलती जुलती ऐप है। phoTWO की मदद से भी आप रियर और फ्रंट कैमरा की फोटो को एक सिंगल पिक्चर में कम्बाइन कर सकते हैं। यह ऐप स्प्लिट स्क्रीन इफ़ेक्ट की बजाय पिक्चर-इन-पिक्चर की तरह इफ़ेक्ट की पेशकश करती है। अन्य ऐप्स की तरह इसमें आप फोटोज को रोटेट या क्रॉप कर सकते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास

जायफल: स्वादिष्ट मसाले का खून भरा इतिहास आज हम ऐसे मसाले की बात करने वाले हैओ जिसे आम तौर ख़िर में छिड़का जाता है । जी हाँ , जायफल की ! आपको शायद ताजुब्ब होगा कि ज्यादातर लोग शायद इसकी उत्पत्ति के बारे में विशेष रूप से कुछ नही जाने हैं ।समें कोई संदेह नहीं है – यह सुपरमार्केट में मसाला गलियारे से आता है, है ना? लेकिन इस मसाले के पीछे दुखद और खूनी इतिहास छुपा छह है । लेकिन सदियों से जायफल की खोज में हजारों लोगों की मौत हो गई है। जायफल क्या है? सबसे पहले हम जानते है कि आखिर ये जायफ़ल है क्या ? तो ये नटमेग मिरिस्टिका फ्रेंगनस पेड़ के बीज से आता है । जो बांदा द्वीपों की लंबीसदाबहार प्रजाति है जो इंडोनेशिया के मोलुकस या स्पाइस द्वीप समूह का हिस्सा हैं। जायफल के बीज की आंतरिक गिरी को जायफल में जमीन पर रखा जाता है ।जबकि अरिल (बाहरी लेसी कवर) से गुदा निकलता है। जायफल को लंबे समय से न केवल भोजन के स्वाद के रूप में बल्कि इसके औषधीय गुणों के लिए भी महत्व दिया गया है। वास्तव में जब बड़ी मात्रा में जायफल लिया जाता है तो जायफल एक ल्यूकोसिनोजेन है जो मिरिस्टिसिन नामक एक साइकोएक्टिव केम

P M JAY HOSPITAL LIST

P M JAY HOSPITAL LIST