Skip to main content

Posts

Showing posts from June, 2017

मॉनसून के सीजन में आंखें लाल मतलब कंजंक्टिवाइटिस का खतरा जानिए इसका इलाज

यह आंख के ग्लोब के ऊपर (बीच के कॉर्निया क्षेत्र को छोड़कर) एक महीन झिल्ली चढ़ी होती है जिसे कंजंक्टि वा कहते है। कंजंक्टिवा में किसी भी तरह के इंफेक्शन (बैक्टीरियल, वायरल, फंगल) या एलर्जी होने पर सूजन आ जाती है जिसे कंजंक्टिवाइटिस कहा जाता है। बीमारी के लक्षण - सुबह के वक्त आंख चिपकी मिलती है और कीचड़ आने लगता है तो यह बैक्टिरियल कंजंक्टिवाइटिस का लक्षण हो सकता है।  - अगर आंख लाल हो जाती है और उससे पानी गिरने लगता है, तो यह वायरल और एलर्जिक कंजंक्टिवाइटिस हो सकता है। - आंख में चुभन महसूस होती है, तेज रोशनी में चौंध लगती है, आंख में तेज खुजली होती है, तो यह एलर्जिक कंजंक्टिवाइटिस हो सकती है। बचाव - कंजंक्टिवाइटिस होने पर मरीज को अपनी आंख दिन में तीन-चार बार साफ पानी से धोनी चाहिए। - कंजंक्टिवाइटिस अगर इंफेक्शन की वजह से है तो ऐसे शख्स से हाथ नही मिलाना चाहिए, नहीं तो इंफेक्शन हाथ के जरिए स्वस्थ व्यक्ति की आंख में भी हो सकता है। - ऐसे शख्स का तौलिया या रुमाल भी इस्तेमाल नही करना चाहिए। बरसात के मौसम में स्विमिंग पूल में नहीं जाना चाहिए वरना कंजंक्टिवाइटिस इंफेक्शन एक व्यक्ति से दूसरे व्य

आज डॉक्टर्स डे: इन बातों का रखेंगे ध्यान तो आप हमेशा रहेंगे हेल्थी

1 जुलाई 1882 को जन्मे और 1 जुलाई 1952 के दिन अंतिम सांस लेने वाले विख्यात फिजिशयन और पश्चिम बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री स्व. डॉ. बिधान चंद्र रॉय की याद में देश में हर साल 1 जुलाई को नैशनल डॉक्टर्स डे मनाया जाता है।  इस मौके पर हम आपको बता रहे हैं कुछ जरूरी बातें जिनका अगर आप ध्यान रखेंगे और अपने जीवन में छोटे-छोटे बदलाव करेंगे तो न सिर्फ आप हमेशा हेल्थी रहेंगे बल्कि आपको बार-बार डॉक्टर के पास भी  नहीं जाना पड़ेगा।  कैल्शियम और आयरन जरूरी बॉडी के लिए बेहद जरूरी होता है कैल्शियम और आयरन। शरीर को हेल्थी बनाने में इनकी खास भूमिका होती है। अगर ये बॉडी में कम हो जाए, तो आपको चलने फिरने में दिक्कत आ सकती है। इसलिए डॉक्टर भी हमें यही सलाह देते हैं कि जितना ज्यादा हो सके, कैल्शियम और आयरन से भरपूर चीजों को खाने में शामिल करें। आयरन आपको मिलेगा पालक, मेथी और दूसरी हरी पत्तेदार सब्जियों में। पत्ता गोभी में ऐंटीऑक्सिडेंट, विटमिन, फोलेट और फाइबर से भरपूर होने के साथ आयरन का प्रमुख सोर्स भी होता है। इसका सेवन सब्जी या सलाद के रूप में किया जा सकता है।  कैल्शियम हड्डियों का एक मुख्य तत्व है। इसकी कमी स

जानिए GST लागू होने के साथ ही सस्ती हो गईं ये चीजें

जीएसटी लागू होने के साथ ही देश में तमाम उत्पादों की कीमतों में उतार-चढ़ाव आ गया। कुछ चीजें पहले से महंगी हो गईं तो कुछ प्रॉडक्ट्स और सेवाओं पर लोगों को बड़ी राहत मिल गई। जीएसटी काउंसिल ने 1,211 आइटम्स को 18 पर्सेंट के टैक्स स्लैब में रखा है। नीचे लिस्ट में देखें, शुक्रवार की आधी रात को जीएसटी लागू होने के साथ ही कौन सी चीजें हो गईं सस्ती। खाने की ये चीजें हो गईं सस्ती 1.  मिल्क पाउडर 2.  दही  3. छाछ 4. गैर-ब्रैंडेड शहद  5.  डेयरी स्प्रेड  6.  पनीर  7.  मसाले 8.  चाय  9.  गेहूं  10.  चावल  11.  आटा  12.  मूंगफली तेल 13.  तिल का तेल  14.  सूरजमुखी का तेल  15.  नारियल तेल  16.  सरसों तेल (Mustard oil)  17.  शुगर 18.  गुड़  19.  शुगर कन्फेक्शनरी 20.  पास्ता  21.  स्पाघेटी  22.  मकरोनी 23.  नूडल्स 24.  फल और सब्जियां 25.  अचार  26.  मुरब्बा  27.  चटनी  28.  मिठाइयां 29.  केचअप 30.  सॉसेज 31.  टॉपिंग्स ऐंड स्प्रेड्स  32.  इंस्टैंट फूड मिक्स 33.  मिनरल वॉटर  34. बर्फ 35.  खंडसारी 36.  बिस्किट्स 37.  रायसिन ऐंड गम 38.  बेकिंग पाउडर  39.  नकली मक्खन 40.  काजू दैनिक उपयोग के इन प्रॉडक्ट्स के भी